Business loan Kaise Le in Hindi 2022: बिजनेस लोन क्या है और कैसे लें?

business loan kaise le in hindi, Business loan Kya Hai in Hindi बिजनेस लोन कैसे मिलेगा? : इस लेख में हम जानेगे की दोस्तों बिजनेस लोन (Business loan) क्या होता है और किस प्रकार से हम बिजनेस लोन ले सकते है. आप अपना नया बिजनेस शुरू करने के लिए लोन ले सकते है या अपने बिजनेस को आगे बढाने या बिजनेस से जुडी किसी भी वित्तीय जरूरत को पूरा करने के लिए आप यह लोन ले सकते है. सभी बैंक और NBFC (Non-Banking Financial Company) Business loan प्रदान करते है.

अगर आपको बिजनेस लोन लेना है 2022 तो इस लेख में हम विस्तार से जानेगे की Business loan in hindi क्या है, इस लोन की interest rate, eligibility, डॉक्यूमेंट क्या है और किस प्रकार से हम Business loan के लिए ऑनलाइन आवेदन (Online loan apply) कर सकते है आदि, इस लिए आप इस article को पूरा अंत तक पढ़े.

यह भी पढ़े: SBI Business Loan

In this post hide

Business loan in Hindi

बिजनेस लोन Secured और Unsecured दोनों प्रकार का होता है. बिजनेस लोन कई प्रकार का होता है. सिक्योर्ड बिजनेस लोन वह होता है जिसमे आपको बैंक या NBFC को कोई गारंटी या सिक्योरिटी गिरवी रखनी होती है लेकिन अनसिक्योर्ड बिजनेस लोन में आपको बैंक या NBFC को कोई गारंटी या सिक्योरिटी नहीं देनी होती है. बहुत से बैंक और वित्तीय संस्था महिलाओं के लिए बिजनेस लोन प्रदान करती है जिनका लाभ महिलाएं आकर्षक ब्याज दरो पर ले सकती है.

यह लोन आवेदक के CIBIL Score पर काफी निर्भर करता है. इसलिए लोन के लिए आवेदन करने से पहले आपको अपने Credit Score पर ध्यान देना चाहिए. अलग अलग बैंक और वित्तीय संस्थाओ में बिजनेस लोन की ब्याज दर (Business loan Interest rate) अलग अलग प्रकार से हो सकती है. Business loan के लिए आप ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों प्रकार से आवेदन कर सकते है.

भारत सरकार ने देश के छोटे उद्योगों (MSME) को बढ़ावा देने के लिए और उनको प्रोत्साहित करने के लिए कई प्रकार की बिजनेस लोन योजना चला रही है. इन योजनाओ में आवेदन करके आप अच्छा ऋण प्राप्त कर सकते है और अपने बिजनेस को आगे तक ले जा सकते है. इन सभी योजनाओं के बारे में विस्तार से हम इस लेख में जानकारी प्राप्त करेंगे.

यह भी पढ़े: IIFL Business Loan

HIGHLIGHTS:

लोन का नामबिजनेस लोन कैसे मिलेगा?
ऋणदाता का नामबैंक और NBFC
लाभार्थीकोई भी व्यक्ति बिजनेस के लिए लोन ले सकता है
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन / ऑफलाइन
ब्याज दरअलग अलग बैंक और NBFC में अलग अलग
लोन की राशीअलग अलग बैंक और NBFC में अलग अलग

यह भी पढ़े: Lendingkart Business loan

Business loan interest rate 2022

आप इस लिंक Business loan interest rate पर क्लिक करके सभी बैंको और वित्तीय संस्थाओ की बिज़नेस लोन इंटरेस्ट रेट चेक कर सकते है. लोन के लिए आवेदन करने से पहले आपको यह पता होना चाहिए की उस लोन की ब्याज दर क्या है. अलग अलग बैंको और NBFC में ब्याज दर अलग अलग प्रकार से हो सकती है.

बिजनेस लोन की ब्याज दर आवेदक के क्रेडिट स्कोर पर काफी निर्भर करती है. अगर आपका सिबिल स्कोर , आपका क्रेडिट इतिहास बहुत अच्छा रहा हो और आपके बैंक के साथ सम्बन्ध बहुत अच्छे है तो आप बैंक की आकर्षक ब्याज दरो का लाभ ले सकते है.

यह भी पढ़े: Mahindra Finance Business loan

बिजनेस लोन में सिबिल स्कोर का महत्व

चाहे आप कोई भी लोन ले रहे हो सिबिल स्कोर यानि की आपका क्रेडिट स्कोर बहुत मायने रखता है. ख़राब क्रेडिट स्कोर वाले लोगो का लोन बैंक या NBFC अप्रूवल ही नहीं करते है. इसी प्रकार अगर आप Business loan ले रहे है तो आपको अपने सिबिल स्कोर पर ध्यान देना जरुरी है. आमतोर पर 750 या इससे अधिक का सिबिल स्कोर बहुत अच्छा माना जाता है.

बिजनेस लोन की ब्याज दर आवेदक की प्रोफाइल और Credit Score पर बैंको के द्वारा तय की जाती है. जितना अच्छा आपका सिबिल स्कोर होगा आप बैंक और NBFC की उतनी ही आकर्षक ब्याज दरो का लाभ ले सकेंगे और आप अधिक ऋण के लिए पात्र हो सकेंगे.

कुछ बैंक और NBFC एसे है जो 750 से कम सिबिल स्कोर पर भी लोन प्रदान करते है लेकिन अगर आपका सिबिल स्कोर बहुत खराब है तो आपको अपना क्रेडिट स्कोर ओर बेहतर करने की जरूरत है क्युकी बैंक के द्वारा दिए जाने वाले ऋण की राशी और ब्याज दर आपके क्रेडिट स्कोर पर काफी निर्भर करते है.

यह भी पढ़े: सरकारी बिजनेस लोन योजनायें

बिजनेस लोन के प्रकार (Types of business loans in india)

बिजनेस लोन कई प्रकार के होते है. बिजनेस लोन सिक्योर्ड लोन और अनसिक्योर्ड लोन दोनों प्रकार के होते है. Business loan के प्रकार निम्न है:

  • पेशेवर ऋण (Professional loan)
  • व्यापार ऋण (Trade loan)
  • ओवरड्राफ्ट लोन (Overdraft Loan)
  • वर्किंग कैपिटल लोन (Working Capital Loan)
  • टर्म लोन (Term Loan)
  • लैटर ऑफ़ क्रेडिट (Letter of Credit)
  • पॉइंट ऑफ़ सेल (POS) लोन (POS Loan)
  • बिल (इनवॉइस) डिस्काउंटिंग (Bill Discounting Loan)

यह भी पढ़े: HDFC Bank Business Loan

पेशेवर ऋण (Professional loan):

इस ऋण के तहत कोई भी पेशेवर व्यक्ति अपने खुद के बिजनेस के लिए लोन ले सकता है. इस लोन की श्रेणी के तहत पेशेवर जैसे की डॉक्टर, वकील, चार्टेड अकाउंटेट आदि शामिल है. इस लोन के तहत दी जाने वाली ऋण राशी आवेदक के कई कारको पर निर्भर करती है जैसे की आवेदक की क्रेडिट इतिहास, उसके बैंक के साथ सम्बन्ध आदि.

व्यापार ऋण (Trade loan):

अपना अकेले स्वामित्व रखने वाली कम्पनियां जैसे की प्राइवेट लिमिटेड, पार्टनरशिप फर्म आदि इस लोन का लाभ ले सकती है. आप अपने व्यापार को ओर आगे बढाने के लिए उसका विस्तार करने के लिए इस प्रकार के लोन का लाभ ले सकते है.

ओवरड्राफ्ट लोन (Overdraft Loan):

इस लोन के तहत ग्राहक को एक ओवरड्राफ्ट अकाउंट दिया जाता है. इस अकाउंट में एक सिमित राशी होती है. आप इस राशी में जितना चाहते उतना निकाल सकते है. आपको पूरी राशी पर ब्याज दर नहीं देना होता है बल्कि आप जितना निकालने है केवल उतनी ही राशी पर ब्याज देना होता है. ये ओवरड्राफ्ट गारंटी या सिक्योरिटी को आधार मानकर जारी किये जाते है. आवेदक की क्रेडिट हिस्ट्री के आधार पर एक निश्चित समय के लिए ग्राहक को यह प्रदान किया जाता है.

यह भी पढ़े: Bajaj Finance business loan

वर्किंग कैपिटल लोन (Working Capital Loan):

इस ऋण का उपयोग ग्राहक अपनी व्यवसाय की जरुरतो को पूरा करने के लिए कर सकता है. जितना ऋण राशी आप लेते है ब्याज केवल उतनी ही राशी पर लिया जाता है. व्यवसाय से जुडी किसी भी जरूरत जैसे की आप अपने व्यवसाय को आगे बढ़ा रहे है या फिर किसी भी प्रकार के उपकरण खरीद रहे है आप वर्किंग कैपिटल लोन के लिए apply कर सकते है.

टर्म लोन (Term Loan):

टर्म लोन एक एसा लोन होता है जिसे आप अपनी व्यक्तिगत और व्यावसायिक दोनों जरूरत के लिए ले सकते है. टर्म लोन सिक्योर्ड और अनसिक्योर्ड दोनों प्रकार का होता है. इस लोन के तहत ग्राहक को ऋण की पूरी राशी दी जाती है जिसे ग्राहक EMI के रूप में बाद में चुकाता है. टर्म लोन के तहत दी जाने वाली ऋण राशी आवेदक की प्रोफाइल और आवेदक की जरूरत पर निर्भर करती है. टर्म लोन (Term Loan) कई प्रकार के होते है जैसे की शॉर्ट-टर्म लोन, लॉन्ग-टर्म लोन और अन्य स्मॉल बिज़नेस लोन.

यह भी पढ़े: Axis Bank Business Loan

लैटर ऑफ़ क्रेडिट (Letter of Credit):

इस लोन का उपयोग अंतराष्ट्रीय लेने देन के लिए किया जाता है. अगर आपका कोई एस उधोग है जिसमे अन्तराष्ट्रीय स्तर पर import – export हो रहा है तो उस स्थिति में आप इस Business loan का लाभ ले सकते है.

पॉइंट ऑफ़ सेल (POS) लोन (POS Loan):

यह एक एसा बिजनेस लोन है जिसके तहत बिजनेसमेन को उसके बिक्री के रिकॉर्ड के आधार पर लोन दिया जाता है. बैंक से लोन लेते समय बैंक को यह रिकॉर्ड देना होता है की उसके द्वारा कितनी बिक्री हुई है. अगले महीने खरीदारी होने पर फिर से इस लोन का भुगतान करना होता है. आवेदक इस लोन को हर महीने ले सकता है और चुका सकता है.

बिल (इनवॉइस) डिस्काउंटिंग (Bill Discounting Loan):

इस लोन के तहत जो व्यापारी होता है वह उधार सामान बेचता है और उस उधार सामान की रशीद बैंक को देता है जिसमे यह प्रमाण होता है की इस तय सीमा तक इसका भुगतान हो जायेगा. इस लोन के तहत आपको यह गारंटी देनी होती है की उधार का पैसा समय पर बैंक को मिल जायेगा.

यह भी पढ़े: ICICI Business Loan

बिजनेस लोन शुल्क और फीस

बैंको और वित्तीय संस्थाओ के द्वारा अलग अलग प्रकार के चार्जेज और फीस ग्राहक से लिए जाते है. अधिक जानकारी के लिए आप बैंक में जाकर सम्पर्क कर सकते है जिस बैंक से आप यह लोन ले रहे है. ये चार्जेज और फीस अलग अलग हो सकते है.

भारत सरकार की बिजनेस लोन योजनायें

भारत सरकार देश के छोटे और माध्यम उधोगो को बढाने के लिए, उनको प्रोत्शाहित करने के लिए और अधिक से अधिक स्वरोजगार करने के लिए कई प्रकार की बिजनेस लोन योजनायें (Business loan schemes) चला रही है. इन योजनाओ में आवेदन करके आप आकर्षक ब्याज दरो पर बिजनेस लोन ले सकते है. ये योजनायें इस प्रकार है:

  • प्रधानमंत्री रोज़गार सृजन योजना (PMEGP)
  • प्रधानमंत्री रोज़गार योजना (PMRY)
  • मुद्रा लोन योजना
  • 59 मिनट में PSB लोन
  • स्टैंड-अप इंडिया
  • छोटे व्यवसायों के लिए क्रेडिट गारंटी फण्ड ट्रस्ट (CGTMSE)
  • क्रेडिट-गारंटी योजना
  • स्टार्ट-अप इंडिया
  • क्रेडिट लिंक्ड गारंटी सब्सिडी स्कीम (CLCSS)
  • नेशनल स्मॉल इंडस्ट्री कॉर्पोरेशन सब्सिडी

यह भी पढ़े: Bank of India Business Loan

महिलाओं के लिए बिजनेस लोन योजनायें (Business loan for women)

महिलाओ के लिए कई प्रकार की बिजनेस लोन योजनायें बैंको और वित्तीय संस्थाओ के द्वारा चलाई जा रही है. महिलाओ को खुद के रोजगार करने और उनको स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए बैंको के द्वारा महिलाओ को बिजनेस लोन दिया जाता है. महिलाओ को ब्याज दर, सिक्यूरिटी आदि में छुट दी जाती है. महिला उद्यमियों के लिए चलाई जा रही बिजनेस लोन योजनायें इस प्रकार है:

  • महिला उद्यम निधि योजना
  • स्टेट बैंक ऑफ इंडिया से स्त्री शक्ति पैकेज
  • सेन्ट्रल बैंक ऑफ़ इंडिया से सेंट कल्याणी
  • महिला समृधि योजना
  • उद्योगिनी योजना
  • स्टेट बैंक ऑफ इंडिया से श्रृंगार और अन्नपूर्णा
  • बैंक ऑफ बड़ौदा से देना शक्ति योजना

यह भी पढ़े: Shriram finance Business loan

बिजनेस लोन के लाभ और विशेषताएं

  • कोई भी व्यक्ति जो अपना खुद का बिजनेस करना चाहता है या अपने बिजनेस का विस्तार करना चाहता है या बिजनेस से जुडी किसी भी वित्तीय जरूरत को पूरा करने के लिए Business loan in hindi ले सकता है.
  • आप नया बिजनेस शुरू करने के लिए लोन ले सकते है.
  • भारत सरकार के द्वारा कई प्रकार की प्रधानमंत्री बिजनेस लोन योजना चलाई जा रही है जिनका लाभ आप ले सकते है.
  • आप अपने बिजनेस के सपने को पूरा कर सकते है.
  • बिजनेस लोन कई प्रकार के होते है जिनकी पूरी जानकारी इस लेख में दी गई है.
  • भारत सरकार सभी बैंक और NBFC नागरिको को आकर्षक ब्याज दरो पर यह लोन प्रदान कर रहे है.
  • अगर आप Business loan के तहत बैंक की आकर्षक ब्याज दरो का लाभ लेना चाहते है तो आपको अपने Credit Score पर ध्यान देना जरुरी है.

यह भी पढ़े: गोल्ड लोन क्या है और कैसे लें?

Business loan Documents in Hindi

अलग अलग बैंको और NBFC में दस्तावेज अलग अलग प्रकार से हो सकते है. कुछ जरूरी दस्तावेज है इस प्रकार है:

  • KYC दस्तावेज (वोटर आईडी कार्ड, आधार कार्ड, पैन कार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, यूटिलिटी बिल (बिजली/ पानी के बिल))
  • अन-सिक्योर्ड ओवरड्राफ्ट (अगर कोई है)
  • बिज़नेस इंकॉर्पोरेशन
  • पिछले 1 साल की बैंक स्टेटमेंट
  • ऋणदाता के द्वारा मांगे जाने वाले अन्य दस्तावेज

यह भी पढ़े: Car Loan Kaise Le?

Business loan Eligibility

  • कोई भी व्यक्ति नया बिजनेस शुरू करने के लिए लोन ले सकता है.
  • आप अपने बिजनेस का विस्तार करने के लिए या अपनी बिजनेस से जुडी किसी भी वित्तीय जरूरत को पूरा करने के लिए ले सकते है.
  • आवेदक का सिबिल स्कोर बहुत अच्छा होना चाहिए.
  • खुद का कामकाज कर रहे व्यक्ति, उद्यमी आवेदन कर सकते है.
  • पार्टनरशिप फर्में
  • प्राइवेट लिमिटेड कंपनियां
  • कोई भी पेशेवर व्यक्ति.
  • अगर आवेदक का पिच्छे से कोई लोन का डिफ़ॉल्ट रिकॉर्ड है तो आप इस लोन का लाभ नहीं ले सकते है.

यह भी पढ़े: टू व्हीलर लोन क्या होता है और कैसे ले?

बिजनेस लोन के लिए आवेदन कैसे करें?

अगर आप ऋणदाता की सभी शर्तो को पूरा करते है तो आप इस लोन के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों प्रकार से आवेदन कर सकते है. आवेदन करने के लिए आप निचे दिए गए तरीको को follow कर सकते है:

Business loan Apply online

  • ऑनलाइन आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको बैंक या NBFC की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा.
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको बिजनेस लोन का आप्शन दिखाई देगा इस पर क्लिक करना है.
  • आपके सामने उस बैंक की बिजनेस लोन से जुडी सारी जानकारी आ जाएगी.
  • आवेदन करने के लिए आपको apply now के आप्शन पर क्लिक करना है.
  • आपके सामने लोन एप्लीकेशन फॉर्म आ जायेगा.
  • फॉर्म में मांगी गई जानकारी दर्ज करें और फॉर्म को submit कर दें.
  • उसके बाद ऋणदाता आपसे सम्पर्क करेंगे और लोन की प्रक्रिया को आगे जारी किया जायेगा.

यह भी पढ़े: Mortgage Loan Kya Hota Hai?

ऑफलाइन आवेदन कैसे करें?

  • ऑफलाइन आवेदन करने के लिए आपको अपने नजदीकी बैंक या NBFC की शाखा में जाना होगा.
  • बैंक शाखा में जाकर बैंक कर्मचारी से सम्पर्क करना होगा.
  • बैंक कर्मचारी आपको लोन से जुडी सारी जानकारी प्रदान करेगा.
  • फिर आपके दस्तावेज वेरीफाई किये जायेंगे.
  • आपको एक लोन आवेदन फॉर्म भरना होगा उसके साथ दस्तावेज अटेच करने है.
  • और इस फॉर्म को बैंक में जमा करवा देना है.
  • अगर आपका लोन अप्रूवल हो जाता है तो लोन की राशी आपके बैंक खाते में ट्रान्सफर कर दी जाएगी.
  • इस प्रकार से आप आवेदन कर सकते है.

यह भी पढ़े: Education loan

Business loan EMI calculator

लोन के लिए आवेदन करने से पहले आपको अपने लोन की EMI (Equated Monthly Installment) की गणना कर लेनी चाहिए ताकि आपको या पता लगा सके की लोन के भुगतान के समय आपको कितने रूपये चुकाने होंगे. प्रतेक बैंक की ऑफिसियल वेबसाइट पर एक EMI calculator होता है.

लोन की EMI लोन की राशी, ब्याज दर और लोन अवधि पर निर्भर करती है. इस calculator में ये सभी जानकारी दर्ज करके आप अपने लोन की EMI चेक कर सकते है. आप विभिन बिज़नेस लोन की EMI के बीच तुलना करके सबसे सस्ते बिज़नेस लोन की तलाश कर सकते है.

यह भी पढ़े: होम लोन कैसे मिलता है?

Conclusion

इस लेख में हमने आपको Business loan Process in Hindi के बारे में पूरी जानकारी प्रदान की है. कोई भी व्यक्ति अपना नया बिजनेस शुरू करने के लिए लोन (Naya Business Shuru Karne Ke Liye Loan) ले सकता है. अगर आपका बिजनेस पहले से चल रहा है तो आप अपने बिजनेस का विस्तार करने के लिए या बिजनेस से जुडी किसी भी जरूरत को पूरा करने के लिए लोन ले सकता है. अगर आपको बिजनेस लोन लेना है 2022 तो यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद हो सकता है.

इस आर्टिकल से आप पूरी डिटेल से जान सकते है की बिज़नेस लोन क्या होता है (What is Business loan in Hindi) ? अगर बिजनेस लोन के बारे में अन्य जानकारी लेनी है तो आप हमे निचे कमेंट में लिख सकते है. आशा करता हूँ दोस्तों की आपको यह article informative लगा होगा. अगर आपको यह article अच्छा लगा है तो प्लीज आप इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें.

यह भी पढ़े: Personal Loan Kaise Le?

बिजनेस लोन से जुड़े सवाल:

Q. बिजनेस लोन क्या है?

Ans. जब हम अपने बिजनेस से जुडी वित्तीय जरूरत के लिए लोन लेते है तो वह बिजनेस लोन होता है.

Q. नया बिजनेस शुरू करने के लिए लोन कैसे मिलेगा?

Ans. लोन लेने के लिए आपको आवेदन करना होगा. जो बैंक या NBFC यह लोन देती है उसमे आप आवेदन कर सकते है.

Q. बिजनेस के लिए कौन सी कंपनी लोन देती है?

Ans. भारत में आमतोर पर सभी बैंक और Non-Banking Financial Company (NBFC) यह लोन प्रदान कर रही है.

Q. बिजनेस लोन के नियम क्या हैं?

Ans. अलग अलग बैंक और वित्तीय संस्थाओ के नियम अलग अलग है.

Q. बिजनेस लोन कितने प्रकार का होता है?

Ans. बिज़नेस लोन के सभी प्रकार के बारे में विस्तार से इस आर्टिकल में जानकारी दी गई है.

Leave a Comment