Credit Card Kya Hota Hai? और क्रेडिट कार्ड अप्लाई ऑनलाइन कैसे करे?

Credit Card Kya Hota Hai? क्रेडिट कार्ड अप्लाई ऑनलाइन : आज के समय में लगभग हर व्यक्ति को पता है की क्रेडिट कार्ड क्या है (Credit Card Kya Hai) आज के समय में क्रेडिट कार्ड का ट्रेंड बहुत ज्यादा है और दिन प्रतिदिन बढ़ता ही चला जा रहा है. अनेक बैंक और वित्तीय कम्पनी है जो ग्राहकों को क्रेडिट कार्ड प्रदान कर रही है. क्रेडिट कार्ड के लिए आप ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों प्रकार से आवेदन कर सकते है.

अगर आप भी क्रेडिट कार्ड (Credit Card in Hindi) लेने की सोच रहे है तो आपको सबसे पहले यह पता होना चाहिए की क्रेडिट कार्ड क्या होता है, क्रेडिट कार्ड के फायदे और नुकसान क्या है, किन चीजों में हम क्रेडिट कार्ड का उपयोग कर सकते है, किन लोगो के लिए यह कार्ड लेना सही होता है, किस प्रकार से हम क्रेडिट कार्ड अप्लाई कर सकते है, क्रेडिट कार्ड बनवाने के लिए हमे किन किन चीजो की जरूरत होगी आदि, इसलिए आप इस आर्टिकल को पूरा अंत तक पढ़े.

इस पोस्ट में क्या है ? show

Credit Card Kya Hota Hai?

क्रेडिट कार्ड दिखने में Debit Card की तरह ही होता है. Debit Card को हम ATM Card भी कहते है. डेबिट कार्ड हमारे बैंक अकाउंट से सीधा लिंक होता है और जब भी हम डेबिट कार्ड से कोई ट्रांजेक्शन करते है तो पैसा सीधा हमारे बैंक अकाउंट से कटता है. लेकिन क्रेडिट कार्ड में एसा नहीं होता है. क्रेडिट कार्ड में बैंक आपको एक क्रेडिट लिमिट (Credit Card Limit) देता है और उस लिमिट तक आप एक महीने में कोई भी ट्रांजेक्शन कर सकते है.

आमतौर पर यह लिमिट 25,000 रूपये से 3 लाख रूपये तक होती है. समय के साथ साथ यह लिमिट बढती भी है. अलग अलग बैंक में यह क्रेडिट कार्ड लिमिट अलग अलग प्रकार से हो सकती है. ग्राहकों को दी जाने वाली यह लिमिट कई कारको पर निर्भर करती है जैसे की ग्राहक की आय, CIBIL Score, क्रेडिट हिस्ट्री आदि. क्रेडिट कार्ड हर किसी व्यक्ति को नहीं मिलता है. क्रेडिट कार्ड केवल उसी व्यक्ति को मिलता है जिसके पास एक अच्छा रोजगार है, और जिसकी एक अच्छी आय है.

Credit Card में बैंक एक प्रकार से आपको लोन प्रदान कर रहा है. क्रेडिट कार्ड के फायदे अनेक है लेकिन क्रेडिट कार्ड के नुकसान इससे भी कहीं ज्यादा है जो आप सोच भी नहीं सकते है, इसलिए क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन करने से पहले आपको इसकी पूरी जानकारी होनी जरुरी है ताकि आपको आगे चलकर किसी भी प्रकार की कोई परेशानी का सामना ना करना पड़े.

अगर आप Credit Card का सही तरीके से और समझदारी से इस्तेमाल करते है तो आपको इसके नुकसान से डरने की जरूरत नहीं है. क्रेडिट कार्ड का सही तरीके से इस्तेमाल करने पर हमे बहुत सारे फायदे मिलते है जिनके बारे में विस्तार से हम इस आर्टिकल में जानेगे. क्रेडिट कार्ड कई प्रकार के होते है जो ग्राहक को उसकी आय, क्रेडिट स्कोर के आधार पर दिए जाते है. बहुत सारे लोगो का यह सवाल भी होता है की अगर क्रेडिट कार्ड का पेमेंट नहीं किया तो क्या होगा तो इसके बारे में विस्तार से हम जानकारी प्राप्त करेंगे.

HIGHLIGHTS:

कार्ड का नामक्रेडिट कार्ड 2022
कार्ड प्रदाताबैंक और NBFC
कोन ले सकता हैकोई भी व्यक्ति
किस आधार पर दिया जाता हैआय, सिबिल स्कोर, क्रेडिट हिस्ट्री
फीस और चार्जअलग अलग बैंक और NBFC में अलग अलग
आवेदन मोडऑनलाइन / ऑफलाइन

Credit Card in Hindi

क्रेडिट कार्ड की मदद से आप ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों प्रकार से शोपिंग कर सकते है, किसी मॉल या ऑनलाइन वेबसाइट से आप ऑनलाइन शोपिंग कर सकते है, होटल में खाना खाने, रहने, ट्रेवल करने, फ्लाइट बुक करने, ट्रेन की टिकेट बुक करने आदि में का उपयोग कर सकते है. अगर ग्राहक क्रेडिट कार्ड का अधिक इस्तेमाल करता है तो बैंको के द्वारा उसे Rewards Points भी दिये जाते है जिसको वह कलेक्ट करके कोई भी चीज खरीद सकता है.

Credit Card आपकी तत्काल जरुरतो को पूरा करने में आपकी मदद करता है. मान लो की आपको अभी कुछ सामान खरीदना है लेकिन आपके पास कैश नहीं है तो आप इस स्थिति में अपने क्रेडिट कार्ड की मदद से उस सामान को आसानी से खरीद सकते है. Credit Card की ख़ास विशेषता में से एक है EMI का आप्शन. अगर आपको कोई स्मार्ट फोन खरीदना है और आपके पास उस फोन को खरीदने के पैसे नहीं है तो आप इस स्थिति में EMI के माध्यम से उस फोन को खरीद सकते है, और इन EMI का भुगतान आप आसानी से अपने क्रेडिट कार्ड से कर सकते है.

क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन करने से पहले आपको यह पता होना चाहिए की Credit Card Kya Hota Hai. इसकी पूरी जानकारी इस लेख में दी गई है. बहुत से बैंक फ्री क्रेडिट कार्ड (Free Credit Card) की सुविधा प्रदान करते है जिसके बारे में आपको यह पता होना चाहिए की बैंक किस आधार पर आपको फ्री क्रेडिट कार्ड (Free Credit Card) प्रदान कर रहा है.

क्रेडिट कार्ड के फायदे हिंदी में

लोगो का सवाल होता है की क्रेडिट कार्ड का उपयोग कैसे करें तो इसके बारे में हम यहाँ पर जानकारी प्राप्त करेंगे. क्रेडिट कार्ड के फायदे (Credit Card Benefits in Hindi) बहुत है. लेकिन ये फायदे केवल उन्ही लोगो के लिए अच्छे साबित होते है जो अपने क्रेडिट कार्ड के बिल का भुगतान समय पर करते है. अगर आपके पास पैसे नहीं है तो कोई बात नहीं, क्रेडिट कार्ड की मदद से आप ट्रांजेक्शन कर सकते है और एक महीने के बाद उस राशी का भुगतान कर सकते है.

आपको यह जानकर खुसी होगी की जितनी आपके क्रेडिट कार्ड की लिमिट है और उस लिमिट में अगर आप खर्च करते है तो उस पर आपको कोई ब्याज नहीं देना होता है. ब्याज आपको तभी देना होता है जब आप समय पर अपने बिला का भुगतान नहीं करते है. और यह ब्याज आपकी शेष राशी में जोड़ दिया जाता है.

एमरजेंसी में क्रेडिट कार्ड आपका अच्छा साथ देता है. आप विभिन बैंको के क्रेडिट कार्ड के बीच तुलना करके सबसे अच्छा क्रेडिट कार्ड की तलाश कर सकते है. यहाँ पर Credit Card के फायदों के बारे में जानकारी दी गई है:

  • सबसे ज्यादा क्रेडिट कार्ड का उपयोग ऑनलाइन शोपिंग (Online Shopping) करने में किया जाता है. अगर आपको कोई भी सामना ऑनलाइन खरीदना है तो आप क्रेडिट कार्ड की मदद से आसानी से उसे खरीद सकते है.
  • ऑनलाइन सामान खरीदने पर आपको कोई छुट भी दी जाती है जो 1%, 2% या कोई भी हो सकती है.
  • अगर आप किसी भी होटल में कमरा बुक कर रहे है और क्रेडिट कार्ड (Credit Card in Hindi) की मदद से पेमेंट कर रहे है तो आपको पेमेंट में कुछ पैसो की छुट मिल सकती है.
  • यदि आपके पास क्रेडिट कार्ड है तो आपको बहुत ज्यादा कैश अपने साथ लेकर जाने की जरूरत नहीं है, आप क्रेडिट कार्ड अपने साथ रखिये और उससे अपने ट्रांजेक्शन कीजिये.
  • बैंको का एक Rewards Points सिस्टम भी होता है. अगर आप अधिक रूपये की कोई चीज खरीदते है तो बैंक आपको Rewards Points देता है. आप बहुत सारे रिवार्ड्स कलेक्ट (Rewards Points Credit Cards) करते है कोई सामान खरीद सकते है.
  • Rewards Points कुछ भी हो सकता है जिसमे आपको अच्छे ऑफर्स, कैश बेक या अन्य. अलग अलग बैंक में यह Rewards Points अलग अलग प्रकार से हो सकते है.
  • अगर आपको मोबाइल खरीदना है और उसकी कीमत बहुत अधिक है तो आप क्रेडिट कार्ड की मदद से EMI के आप्शन को सेलेक्ट करके उस मोबाइल को खरीद सकते है.
  • अगर आपको अपनी वेबसाइट के लिए होस्टिग खरीदनी है, जिसके लिए आपको इंटरनेशनल ट्रांजेक्शन करना होता है, क्रेडिट कार्ड के साथ आप इसे आसानी से कर सकते है.
  • धोखाधड़ी का चांस बहुत कम होता है.
  • अगर आप एक क्रेडिट कार्ड यूजर है और समय पर बिल का भुगतान करते है तो आप अपने क्रेडिट स्कोर (Credit Score) को बेहतर बना सकते है.
  • आपको इंटरेस्‍ट फ्री क्रेडिट का लाभ मिलता है.
  • कुछ ऋणदाता ग्राहक को क्रेडिट कार्ड पर Insurance की सुविधा प्रदान करता है.
  • आप क्रेडिट कार्ड से कैश भी निकलवा सकते है.
  • वो हर काम जो डेबिट कार्ड/एटीएम कार्ड से हम करते है, आप क्रेडिट कार्ड से कर सकते है.

क्रेडिट कार्ड के नुकसान क्या है?

क्रेडिट कार्ड के फायदों से ज्यादा इसके नुकसान है लेकिन ये नुकसान केवल उन्ही लोगो के लिए है जो समय पर अपने बिल का भुगतान नहीं करते है. क्रेडिट कार्ड के नुकसान (Credit Card Disadvantages in Hindi) इतने है की आप सोच भी नहीं सकते. अगर आप समय पर अपने बिल का भुगतान नहीं करते है तो आप पर 36% से भी अधिक इंटरेस्ट लगाया जाता है जो इससे भी कहीं अधिक हो सकता है. यहाँ तक की ब्याज पर भी ब्याज लगाया जाता है. इससे आप कर्ज में पूरी तरह से डूब जायेंगे.

अगर आप समय पर अपने बिल का भुगतान करते है, सिमित खर्चे करते है, केवल उतना ही खर्चा करते है जितना आप चुका सकते है तो क्रेडिट कार्ड आपके लिए बहुत मददगार साबित हो सकता है और आपको क्रेडिट कार्ड लेने के लिए किसी भी चीज से डरने की जरूरत नहीं है.

क्रेडिट कार्ड के नुकसान के बारे में यहाँ पर विस्तार से जानकारी दी गई है:

  • अगर आप क्रेडिट कार्ड के बिल का भुगतान समय पर नहीं करते है तो आपको बहुत अधिक पेनेल्टी देनी होती है. आपको ब्याज के उपर ब्याज भी देना पड़ सकता है.
  • समय पर बिल के भुगतान ना करने पर आपका सिबिल स्कोर खराब होता है.
  • अगर आप बहुत अधिक बिल का भुगतान करने से चुक जाते है तो आप कर्जदार हो सकते है.
  • लिमिट से उपर पैसे निकालने पर आपको निकाली गई राशी का 3-4 गुना तक पेनेल्टी देनी पड़ सकती है.
  • अगर आप कैश निकालते है तो आपका चार्ज उसी दिन से शुरू हो जाता है और यह चार्ज आपको तब तक देना होता है जब तक की आप उस राशी का भुगतान ना कर देते.
  • अगर आपका क्रेडिट कार्ड कहीं गुम हो जाता है या फिर चोरी हो जाता है तो आपको बहुत बड़ा नुकसान हो सकता है क्युकी क्रेडिट कार्ड से जब हम नेशनल ट्रांजेक्शन करते है तो, तो हमे OTP देना होता है लेकिन अगर हम इंटरनेशनल ट्रांजेक्शन करते है तो हमसे कोई OTP नहीं माँगा जाता है. इंटरनेशनल ट्रांजेक्शन करने के लिए सिर्फ क्रेडिट कार्ड का नंबर और CVV code ही चाहिए होता है.
  • इसलिए अपने क्रेडिट कार्ड को हमेशा सुरक्षित रखें और क्रेडिट कार्ड की जानकारी कभी भी किसी के साथ भी साझा ना करे.

क्रेडिट कार्ड बिल पेमेंट कैसे आता है?

बहुत से लोगो के मन में यह सवाल होता है की क्रेडिट कार्ड का बिल कैसे भरे जो इसके बारे में आप यहाँ पर जानकारी प्राप्त कर सकते है. जैसा की क्रेडिट कार्ड में बैंक ग्राहक को एक लिमिट देता है. इस क्रेडिट लिमिट में ग्राहक ट्रांजेक्शन कर सकता है. ग्राहक को इन पैसो को खर्च करने में 1 महीने का समय मिलता है. एक महीने के बाद इसका बिल जनरेट होता है. बिल जनरेट होने के बाद भी ग्राहक को बिल का भुगतान करने के लिए समय मिलता है.

इस प्रकार से कुल 50 दिन तक का समय ग्राहक को बिल का भुगतान करने के लिए मिलता है. क्रेडिट कार्ड का बिल (Credit Card Bill Payment) आपके नेट बैंकिंग में भी आपको दिखाई देता है और आपके स्थाई एड्रेस पर भी भेज दिया जाता है. आप नेट बैंकिंग या किसी ऑनलाइन पेमेंट एप्लीकेशन के माध्यम से भी बिल का भुगतान कर सकते है. इसके अलावा आप बैंक की शाखा में जाकर भी अपने बिल का भुगतान कर सकते है.

इस बिल में पूरी जानकारी होती है जैसे की आपने कितने रूपये का खर्च किया है, क्या क्या आपने ख़रीदा है, किस प्रकार के ट्रांजेक्शन आपने किये है, अगर आप पर कोई पेनेल्टी लेगी है तो उसकी जानकारी, बिल भरने की तारीख आदि होती है. पेमेंट करने के आपको कई आप्शन दिए जाते है, या तो आप मिनिमम अमाउंट जमा कर सकते है या फुल अमाउंट का पेमेंट कर सकते है. अगर आप मिनिमम अमाउंट का पेमेंट करते है तो शेष राशी पर आपको बहुत ज्यादा पेनेल्टी देनी होती है इसलिए हमेशा अपना फुल पेमेंट ही करे.

क्रेडिट कार्ड लिमिट (Credit Card Limit)

एटीएम कार्ड में पैसा आपके बैंक खाते से कटता है लेकिन क्रेडिट कार्ड में एसा नहीं होता है. क्रेडिट कार्ड में आपको बैंक एक क्रेडिट लिमिट देता है. आपके पास बैंक खाता है या नहीं इससे कोई मतलब नहीं है. अगर आपका पास बैंक खाता नहीं भी है तो भी आप क्रेडिट कार्ड ले सकते है. आमतौर पर दी जाने वाली यह लिमिट 25,000 रुपए से 3 लाख रूपये तक होती है. समय के साथ यह लिमिट बढती भी जाती है.

यह क्रेडिट लिमिट बैंक आपको आपकी आय, सिबिल स्कोर, क्रेडिट हिस्ट्री के आधार पर देती है. अगर आपके पास एक अच्छा रोजगार है और आपको उससे बहुत अधिक आय हो रही है तो आप अधिक लिमिट का क्रेडिट कार्ड प्राप्त कर सकते है.

जो बड़े बिज़नेस मेन है उनके क्रेडिट कार्ड की लिमिट लाखो में होती है. उनको उस हिसाब से ही फीस का भुगतान भी करना होता है. इस क्रेडिट लिमिट से अधिक पैसे आप नहीं निकलवा सकते है. अगर आप क्रेडिट लिमिट से अधिक पैसे निकलवाते है तो आपको उसका कई गुना पेनेल्टी देनी होती है. आपको क्रेडिट कार्ड क्या होता है (Credit Card Kya Hota Hai) के बारे में जानकारी के साथ साथ यह भी पता होना चाहिए की क्रेडिट कार्ड लिमिट क्या होता है.

क्रेडिट कार्ड कितने प्रकार के होते हैं?

ट्रेन की टिकट, बिल भरने से लेकर शोपिंग करने तक के लिए कई प्रकार के क्रेडिट कार्ड उपलब्ध है. भारत में कई प्रकार के क्रेडिट कार्ड उपलब्ध है जिनका उपयोग आप कर सकते है. क्रेडिट कार्ड के प्रकार (Types of Credit Card in Hindi) के बारे में यहाँ पर जानकारी दी गई है:

  • फ्यूल क्रेडिट कार्ड (Fuel Credit Card)
  • एंटरटेनमेंट क्रेडिट कार्ड (Entertainment Credit Card)
  • बैलेंस ट्रांसफर क्रेडिट कार्ड (Balance Transfer Credit Card)
  • सेक्योर्ड क्रेडिट कार्ड (Secured Credit Card)
  • ट्रैवल क्रेडिट कार्ड (Travel Credit Card)
  • रिवॉर्ड क्रेडिट कार्ड (Reward Credit Card)
  • लो इंट्रेस्ट क्रेडिट कार्ड (Low Interest Credit Card)
  • शॉपिंग क्रेडिट कार्ड (Shopping Credit Card)

फ्यूल क्रेडिट कार्ड :

इस क्रेडिट कार्ड के तहत आप फ्यूल जैसे की पेट्रोल, डीजल आदि खरीदते समय पेट्रोल पंप के ऑफर्स का लाभ ले सकते है और पुरे साल बचत कर सकते है.

एंटरटेनमेंट क्रेडिट कार्ड :

जैसा की नाम से ही पता चलता है, मनोरंजन से जुड़े खर्चो जैसे की मूवी की टिकेट करने या कोई अन्य के लिए आप ऑफर प्राप्त कर सकते है और छुट प्राप्त कर सकते है.

बैलेंस ट्रांसफर क्रेडिट कार्ड :

जैसा की क्रेडिट कार्ड (Credit Card in Hindi) में आपको एक तय सीमा के अंदर पैसो का भुगतान वापिस करना होता है. लेकिन अगर मान लो की आपका बकाया बहुत ज्यादा हो गया है और आप तय सीमा में उसका भुगतान नहीं कर पा रहे है तो इस स्थिति में आप बैलेंस ट्रांसफर क्रेडिट कार्ड ले सकते है जो आपके मोजुदा क्रेडिट कार्ड के बकाया को कम करने में आपकी मदद करता है.

इस स्थिति में बकाया को चुकाने के लिए आपको 6 से 21 महीने का समय मिलता है. लेकिन बैलेंस ट्रांसफर क्रेडिट कार्ड लेने के लिए आपको एक बैलेंस ट्रांसफर फीस देनी होती है जो कुल रकम की 5% तक होती है.

सेक्योर्ड क्रेडिट कार्ड :

जैसा की आपने जाना की क्रेडिट कार्ड उन लोगो को दिया जाता है जिनका सिबिल स्कोर बहुत अच्छा होता है. लेकिन अगर किसी व्यक्ति का सिबिल स्कोर बहुत खराब है तो वह सेक्योर्ड क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई कर सकता है. अगर आप बैंक में लोन के लिए आवेदन करते है या फिर कोई खाता खुलवाते है तो आप सेक्योर्ड क्रेडिट कार्ड के जरिये अपने क्रेडिट स्कोर को अच्छा कर सकते है. एक बार अगर आपका सिबिल स्कोर अच्छा हो जाता है तो उसके बाद आप अनसिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड का उपयोग कर सकते है.

ट्रैवल क्रेडिट कार्ड :

अगर आप एक ट्रेवल ब्लॉगर है या फिर आपका काम ट्रेवल करने का है तो यह कार्ड आपके लिए फायदेमंद हो सकता है. इस कार्ड की मदद से आप फ्लाइट बुक करने, ट्रेन या बस की टिकेट बुक करने, कैब बुक करने आदि के लिए उपयोग कर सकते है. प्रतेक बुक पर आपको छुट मिलती है और रिवॉर्ड मिलते है.

रिवॉर्ड क्रेडिट कार्ड :

इस प्रकार के क्रेडिट कार्ड में जब भी आप कोई ट्रांजेक्शन करते है तो आपको उस ट्रांजेक्शन पर कोई ना कोई रिवॉर्ड जरुर मिलता है. आपको कैश बेक भी मिल सकता है. आप बहुत सारे रिवॉर्ड कलेक्ट करके उससे कोई सामान खरीद सकते है.

लो इंट्रेस्ट क्रेडिट कार्ड :

जैसा की आप जान ही गए होंगे की Credit Card में आपको एक तय सीमा के अंदर पैसो का भुगतान वापिस करना होता है और अगर आप समय पर पैसो का भुगतान नहीं कर पाते है तो आपको भारी ब्याज देना होता है. इस स्थिति में आपको लो इंट्रेस्ट क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई करना चाहिए जो आपको तय सीमा के बाद कुछ समय तक कम ब्याज देना होता है.

शॉपिंग क्रेडिट कार्ड :

जैसे नाम से ही पता चलता है, अगर आपको सिर्फ शोपिंग करना है और आप बहुत सारी शोपिंग करते है तो आप शॉपिंग क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते है. जब भी आप इस कार्ड से शोपिंग करते है तो आपको छुट मिलती है. आप ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों प्रकार से शोपिंग कर सकते है.

क्रेडिट कार्ड लेने से पहले ध्यान देने योग्य बातें

आपको हर किसी व्यक्ति के कहने पर क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई (Credit Card Apply) नहीं करना चाहिए. आपको क्रेडिट कार्ड के बारे में पूरी जानकारी लेने के बाद ही इसके लिए अप्लाई करना चाहिए. यहाँ पर कुछ जरुरी पॉइंट्स दिए गए है जिनको आपको ध्यान में रखना चाहिए:

  • बिना काम के क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई ना करे, अगर आपको जरुरी हो तो ही अप्लाई करे, कुछ लोग सिर्फ सोकिन की वजह से अप्लाई कर देते है.
  • अपने खर्चो को सिमित रखें. एसा देखा गया है की क्रेडिट कार्ड लेने के बाद लोग ज्यादा शोपिंग करते है और ज्यादा सामान खरीदते है और उनको लगता है की काफी टाइम मिलता है पैसो को चुकाने के लिए, लेकिन भुगतान के समय उनको परेशानी का सामना करना पड़ता है.
  • केवल उतने ही पैसे खर्च करे जितना की आप वापिस समय पर भुगतान कर सकते है.
  • अपने क्रेडिट कार्ड की इनफार्मेशन किसी के साथ भी साझा ना करे.
  • अगर आपकी एक अच्छी आय है और आपका सिबिल स्कोर बहुत अच्छा है तो आप बैंक से Instant Credit Card प्राप्त कर सकते है.
  • अगर आप समय पर क्रेडिट कार्ड के बिल का भुगतान करते है तो यह आपके लिए एक बहुत अच्छा आप्शन है.
  • इसका उपयोग सही तरीके से और स्मार्ट तरीके से करे.
  • क्रेडिट कार्ड के लिए आप अपने नजदीकी बैंक की शाखा में जाकर ऑफलाइन आवेदन या बैंक की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर क्रेडिट कार्ड अप्लाई ऑनलाइन (Credit Card apply online) कर सकते है.
  • आपको क्रेडिट कार्ड पर लगने वाले ब्याज दर के बारे में जानकारी होनी चाहिए.
  • बैंक Credit Card पर प्रतिवर्ष एक शुल्क भी लेते है जिस प्रकार से एटीएम कार्ड के लिए लिया जाता है, इस शुल्क के बारे में आपको जानकारी होनी चाहिए.
  • आवेदन करने से पहले आपको पूरी तरह से पता होना चाहिए की Credit Card Kya Hota Hai और किस प्रकार से इसका इस्तेमाल किया जाता है.

फ्री क्रेडिट कार्ड (Free Credit Card) क्या होता है?

दोस्तों अगर आप क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई करने की सोच रहे है तो आपने फ्री क्रेडिट कार्ड या लाइफ टाइम फ्री क्रेडिट कार्ड (Lifetime Free Credit Card) का नाम तो जरुर सुना होगा. यह फ्री क्रेडिट कार्ड कितना फ्री होता है इसके बारे में विस्तार से हम यहाँ पर जानेगे.

क्रेडिट कार्ड पर बैंक मुख्य रूप से दो प्रकार की फीस लेती है एक ज्वॉइनिंग फीस और दूसरा एनुअल फीस होती है. अगर आपको कोई बैंक पूरी तरह से फ्री क्रेडिट कार्ड (Lifetime Free Credit Card) दे रहा है तो इसका मतलब यह है की आपको ये दोनों चार्जेज नहीं देने होते है. ना तो आपको कोई ज्वॉइनिंग फीस देनी होती है और ना ही आपको कोई मेंटेनेंस चार्ज देना होता लेकिन बाकी के निम्न और शर्तें वही रहते है.

फ्री क्रेडिट कार्ड है इसका मतलब यह नहीं है की आपको पूरी तरह से ही क्रेडिट कार्ड फ्री में दिया जायेगा, इसका मतलब यह है की आपसे कुछ फीस और चार्जेज नहीं लिए जायेंगे.

क्रेडिट कार्ड के नियम एवं शर्तें

क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई करने से पहले आपको इसकी पात्रता (Credit Card Eligibility) के बारे में जानकारी होनी चाहिए. यहाँ पर क्रेडिट कार्ड के नियम एवं शर्तें के बारे में जानकारी दी गई है.

  • कोई भी व्यक्ति क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई कर सकता है.
  • आप शोपिंग करने, कुछ खरीदने, टिकेट करने, यात्रा करने, अपने बिज़नेस की जरुरतो को पूरा करने आदि में इस कार्ड का उपयोग कर सकते है.
  • क्रेडिट कार्ड आपकी आय, क्रेडिट हिस्ट्री, सिबिल स्कोर के आधार पर दिया जाता है.
  • अपना सिबिल स्कोर अच्छा रखें. आमतौर पर 750 या इससे अधिक के स्कोर को अच्छा स्कोर माना जाता है.
  • आपकी आयु 18 वर्ष या इससे अधिक होनी चाहिए.
  • आपके पास एक अच्छा रोजगार होना चाहिए और आपकी एक अच्छी सेलरी होनी चाहिए.
  • अन्य पात्रता

Credit Card Documents required

Credit Card Apply करने से पहले आपको यह पता होना चाहिए की बैंक के द्वारा आपसे कोन कोन से डॉक्यूमेंट लिए जायेंगे. अलग अलग बैंक में डॉक्यूमेंट अलग अलग प्रकार से हो सकते है. डॉक्यूमेंट के बारे में अधिक जानकारी के लिए आप अपने नजदीकी बैंक की शाखा में जाकर भी सम्पर्क कर सकते है. निचे कुछ सामान्य डॉक्यूमेंट दिए गए है:

  • पहचान प्रमाण (कोई एक) : पैन कार्ड / आधार कार्ड / वोटर आईडी कार्ड / पासपोर्ट / ड्राइविंग लाइसेंस आदि.
  • पता प्रमाण (कोई एक) : पासपोर्ट / टेलीफ़ोन बिल / ड्राइविंग लाइसेंस / राशन पत्रिका / बिजली का बिल / पिछले दो महीने का बैंक स्टेटमेंट / वोटर आईडी कार्ड आदि.
  • आय प्रमाण (कोई एक) : नवीनतम भुगतान पर्ची, फॉर्म 16, आयकर (आईटी) रिटर्न.
  • आयु का प्रमाण जिसमे आप पासपोर्ट, वोटर आईडी कार्ड, दसवीं कक्षा का स्कूल प्रमाण पत्र या फिर जन्म प्रमाणपत्र दे सकते है.
  • स्टूडेंट के लिए: कॉलेज पहचान पत्र / प्रवेश पर्ची / कॉलेज या विश्वविद्यालय से अध्ययन प्रमाण पत्र
  • अन्य डॉक्यूमेंट.

क्रेडिट कार्ड अप्लाई कैसे करे?

अगर आप क्रेडिट कार्ड की सभी शर्तो को पूरा करते है तो आप इसके लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों प्रकार से आवेदन कर सकते है. आवेदन करने की प्रक्रिया को समझने के लिए आप निचे दिए गए स्टेप फॉलो करे:

क्रेडिट कार्ड अप्लाई ऑनलाइन (Credit Card apply online)

  • ऑनलाइन अप्लाई करने के लिए आपको उस बैंक की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा जिस बैंक का क्रेडिट कार्ड आप लेना चाहते है.
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको Credit Card का आप्शन दिखाई देगा इस पर क्लिक करना होगा.
  • आवेदन करने के लिए आपको Apply Now के आप्शन पर क्लिक करना है.
  • आपके सामने एक फॉर्म ओपन होगा जिसमे आपको कुछ जरुरी विवरण जैसे की आपना नाम, मोबाइल नंबर, एड्रेस आदि दर्ज करना है.
  • फिर आपको सबमिट कर देना है.
  • आपके द्वारा फॉर्म सबमिट करने के बाद बैंक के अधिकारी आपसे सम्पर्क करते है और आगे की प्रक्रिया को शुरू करते है.

ऑफलाइन आवेदन कैसे करे?

  • ऑफलाइन आवेदन करने के लिए आपको सबसे पहले अपने नजदीकी बैंक की शाखा में जाना होगा.
  • बैंक के कर्मचारी से सम्पर्क करे जो आपको क्रेडिट कार्ड के बारे में जानकारी प्रदान करेगा.
  • फिर आपके डॉक्यूमेंट वेरीफाई करेगा.
  • आपको एक फॉर्म भरना होगा और डॉक्यूमेंट अटेच करने है.
  • और उन्हें बैंक में जमा करवा देना है.
  • अगर आप सभी शर्तो को पूरा करते है तो कुछ समय में आपके घर पर क्रेडिट कार्ड भेज दिया जायेगा.

क्रेडिट कार्ड और डेबिट कार्ड में अंतर

यहाँ पर हम आपको बताएँगे की क्रेडिट कार्ड और डेबिट कार्ड में अंतर (Difference between credit card and debit card) क्या है. आपने क्रेडिट कार्ड और डेबिट कार्ड दोनों का नाम तो सुना ही होगा, दोनों दिखने में भी एक जैसे लगते है लेकिन ये दोनों पूरी तरह से अलग अलग होते है. इनमे अंतर इस प्रकार है:

  • डेबिट कार्ड (ATM Card) में पैसे आपके बैंक खाते से काटे जाते है जबकि क्रेडिट कार्ड में आपको एक क्रेडिट लिमिट दी जाती है जिससे आप ट्रांजेक्शन कर सकते है.
  • डेबिट कार्ड के लिए आपके पास बैंक खाता होना जरुरी है, क्रेडिट कार्ड के लिए बैंक खाते की जरूरत नहीं है.
  • क्रेडिट कार्ड से धोखाधड़ी होने की संभावना कम है लेकिन एटीएम कार्ड से यह धोखाधड़ी होने की संभावना अधिक है.
  • क्रेडिट कार्ड में अगर आपके पास पैसे नहीं है तो भी आप इसका इस्तेमाल कर सकते है लेकिन डेबिट कार्ड में आपके बैंक खाते में पैसा होना जरुरी है.
  • अगर आप समय पर क्रेडिट कार्ड के बिल का भुगतान नहीं करते है तो आपको ब्याज का भुगतान करना होता है लेकिन डेबिट कार्ड में आपको कोई ब्याज नहीं देना होता है.
  • दोनों का उपयोग आप एक जैसे कामो के लिए कर सकते है.

Conclusion

इस आर्टिकल में हमने आपको क्रेडिट कार्ड क्या होता है (Credit Card Kya Hota Hai) के बरे में पूरी जानकारी प्रदान की है. कोई भी व्यक्ति क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन कर सकता है. सही तरीके से अगर आप इसका उपयोग करे तो क्रेडिट कार्ड एक बहुत बेहतरीन सुविधा है. अगर आपके मन में अभी भी सवाल है की क्रेडिट कार्ड क्या है आय फिर क्रेडिट कार्ड कैसे बनता है तो आप हमे निचे कमेंट में लिख सकते है.

आप विभिन बैंको के Credit Card के बीच तुलना करके सबसे अच्छा क्रेडिट कार्ड की तलाश कर सकते है. बहुत से लोगो के मन में यह सवाल भी होता है की क्रेडिट कार्ड का बिल कैसे पता करे, ऋणदाता आपके पंजीकृत ईमेल आईडी पर आपके क्रेडिट कार्ड स्टेटमेंट की कॉपी भेजती है. इसके अलावा आप बैंक की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर भी अपने क्रेडिट कार्ड स्टेटमेंट (Credit Card Statement) का विवरण प्राप्त कर सकते है.

आशा करता हूँ दोस्तों की आपको यह आर्टिकल informative लगा होगा. अगर आपको इस आर्टिकल में दी गई जानकारी अच्छी लगी है तो प्लीज आप इसे अधिक से अधिक शेयर करे.

क्रेडिट कार्ड से जुड़े सवाल:

Q. क्रेडिट कार्ड क्या है?

Ans. क्रेडिट कार्ड एक फाइनेंशियल इंस्ट्रूमेंट है जिसमे बैंक के द्वारा आपको एक प्री-सेट क्रेडिट लिमिट दी जाती है जिसका उपयोग आप कहीं पर भी कैशलेश ट्रांजेक्शन में कर सकते है.

Q. क्रेडिट कार्ड से क्या होता है?

Ans. यह कार्ड ऑनलाइन ट्रांजेक्शन करने में आपकी मदद करता है. इसकी मदद से आप कहीं पर भी ऑनलाइन शोपिंग कर सकते है, सामान खरीद सकते है, टिकट बुक कर सकते है आदि.

Q. क्रेडिट कार्ड के क्या फायदे हैं?

Ans. फायदों की पूरी जानकारी इस लेख में दी गई है.

Q. क्रेडिट कार्ड बनवाने के लिए कितनी सैलरी होनी चाहिए?

Ans. यह बैंक पर निर्भर करता है की वह कितने रूपये की सैलरी पर आपको कार्ड दे रहा है लेकिन यह कार्ड लेने के लिए आपकी एक अच्छी आय होनी चाहिए.

Q. क्रेडिट कार्ड का उपयोग कैसे करते हैं?

Ans. क्रेडिट कार्ड का उपयोग उन सभी जगहों पर आप कर सकते है जहा आप ऑनलाइन ट्रांजेक्शन कर रहे है, अगर आपको कैश निकालना है तो आप इसके लिए डेबिट कार्ड का यूज़ करे.

Q. क्रेडिट कार्ड के क्या नुकसान है?

Ans. नुकसान जानने के लिए इस आर्टिकल को पूरा पढ़े.

Q. क्या क्रेडिट कार्ड से कैश निकाल सकते है?

Ans. हाँ आप निकाल सकते है लेकिन आपको भारी ब्याज देना होगा.

Q. सबसे सस्ता क्रेडिट कार्ड कौन सा है?

Ans. आप विभिन बैंको और वित्तीय संस्थाओ के क्रेडिट कार्ड के बीच तुलना करके यह पता कर सकते है.

Q. क्रेडिट कार्ड कितने प्रकार के होते हैं?

Ans. यह जानने के लिए इस आर्टिकल को पूरा पढ़े.

Q. क्रेडिट कार्ड कैसे बनाएं?

Ans. आप क्रेडिट कार्ड के लिए बैंक की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन अप्लाई या अपने नजदीकी बैंक की शाखा में जाकर ऑफलाइन अप्लाई कर सकते है.

Leave a Comment